International

पाक: ‚गुप्त जेल‘ में जाधव से मिले राजनयिक

Kulbhushan Jadhav Pakistan: भारत के दो राजनयिक गुरुवार को पाकिस्तान की जेल में कुलभूषण जाधव से मिलने पहुंचे। पाकिस्तान ने गुरुवार को ही भारत को राजनयिक पहुंच दी है।

Edited By Shatakshi Asthana |

नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

कुलभूषण जाधव केस में रिव्यू पर पाक कर रहा खेल

कुलभूषण जाधव केस में रिव्यू पर पाक कर रहा खेल

हाइलाइट्स

  • पाकिस्तान की ‚गुप्त‘ जेल में कुलभूषण जाधव से भारतीय राजनयिकों की मुलाकात
  • जाधव के लिए गुरुवार को पाकिस्तान ने भारत को दी दूसरी बार राजनयिक पहुंच
  • पाकिस्तान का दावा, बिना रोकटोक राजनयिकों को जाधव से मिलने दिया गया

इस्लामाबाद


भारतीय उच्चायोग के दो अधिकारियों ने जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से मुलाकात की। इस मुलाकात का एक मकसद जाधव को सुनाई गई मौत की सजा के खिलाफ इस्लामाबाद हाई कोर्ट में पुनर्विचार याचिका पर दस्तखत करवाना था। इससे पहले बुधवार को पाकिस्तान ने जाधव को याचिका दाखिल करने की इजाजत दी थी और गुरुवार को भारत को राजनयिक पहुंच भी दी।


अनजान जगह पर जेल में मुलाकात


इस मुलाकात के लिए जाधव को एक ‚सब-जेल‘ में रखा गया है जिसकी लोकेशन गुप्त रखी गई। यहां दोपहर 3 बजे उनकी मुलाकात पाकिस्तानी अधिकारियों की मौजूदगी में भारतीय राजनयिकों- डेप्युटी हाई कमिश्नर गौरव अहलूवालिया और फर्स्ट जनरल सेक्रटरी चेराकुंग जेलियांग से हुई। दोनों अधिकारी जिस गाड़ी से पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय पहुंचे थे, उसे वहीं छोड़ दिया गया और इस ‚सब-जेल‘ तक उन्हें दूसरी गाड़ी में ले जाया गया।

कुलभूषण: पाक ने दिया सशर्त कॉन्सुलर ऐक्सेस

‚बिना किसी रोकटोक मुलाकात‘


भारतीय अधिकारियों को जाधव से सिर्फ अंग्रेजी में बात करने के लिए कहा गया था। पाकिस्तान का कहना है कि उसने भारतीय अधिकारियों-जाधव के बीच बातचीत में टोकाटाकी नहीं की। पाकिस्तान की ओर से बयान जारी कर यह भी कहा गया है कि इससे पहले 2019 में भारत को पहली राजनयिक पहुंच दी गई थी और 2017 में जाधव की मां और पत्नी को उनसे मिलने दिया गया था।

जाधव को याचिका दाखिल करने की इजाजत


पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय ने बुधवार देर शाम कुलभूषण जाधव को मौत की सजा के खिलाफ अपील करने की अनुमति दे दी थी। पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय ने बुधवार देर शाम कहा था कि अपील और समीक्षा याचिका को जाधव या उनके कानूनी प्रतिनिधि या इस्‍लामाबाद में भारत के काउंसलर अधिकारी दायर कर सकते हैं।

कुलभूषण जाधव मामला: भारत ने पाकिस्तान से बिना शर्त 20 जुलाई से पहले पहुंच देने को कहा

कुलभूषण जाधव मामला: भारत ने पाकिस्तान से बिना शर्त 20 जुलाई से पहले पहुंच देने को कहाभारत ने गुरुवार को पाकिस्तान से कहा है कि वो बिना किसी शर्त के जेल में कैद भारतीय नागरिक और पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव से बातचीत करने का मौका दे। यह जानकारी सूत्रों द्वारा दी गई है। इससे पहले भारत ने कहा था कि वो इस मामले में कानूनी विकल्पों को टटोल रहा है। दरअसल, पाकिस्तान ने दावा किया था कि सैन्य अदालत से मौत की सजा पाए जाधव ने पुनर्विचार याचिका दायर करने से इनकार कर दिया है। हालांकि भारत के सख्त रुख के बाद पाकिस्तान पलट गया था। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने जाधव को मौत की सजा के खिलाफ अपील करने की इजाजत दे दी है।


फाइल फोटो

फाइल फोटो

Web Title 

updates of meeting between kulbhushan jadhav and indian high commission diplomats as pakistan gives india consular access(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

pakistan News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए NBT के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें

Related Articles

Close