International

पोलैंड में तैनाती होगी यूएस आर्मी, रूस से गहराएगा तनाव

| नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 15 Aug 2020, 08: 24: 00 PM

US Army in Poland: वॉरसा में यूएस आर्मी की तैनाती को लेकर अमेरिका और पोलैंड में आज आधिकारिक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। जिसके बाद बाल्टिक सी क्षेत्र में अमेरिकी सैनिकों की तैनाती का रास्ता साफ हो गया है। इस समझौते से रूस और अमेरिका में तनाव बढ़ने के आसार हैं।

Trump putin news

राष्ट्रपति ट्रंप और पुतिन

हाइलाइट्स:

  • पोलैंड में अमेरिकी सैनिकों को तैनात करने का हुआ समझौता, रूस के साथ बढ़ सकता है तनाव
  • बाल्टिक सी क्षेत्र में अमेरिकी सैनिकों की तैनाती को रूस अपने घेराव के रूप में देख सकता है
  • जर्मनी में मौजूद अमेरिकी सैनिकों में से कुछ को पोलैंड भेजने की तैयारी, यूरोप में नए समीकरण के संकेत

वॉरसा

वॉरसा में यूएस आर्मी की तैनाती को लेकर अमेरिका और पोलैंड में आज आधिकारिक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। जिसके बाद बाल्टिक सी क्षेत्र में अमेरिकी सैनिकों की तैनाती का रास्ता साफ हो गया है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और पोलैंड के रक्षा मंत्री मारिअस ब्लाजजेक ने वॉरसा में इस सौदे को अंतिम रूप दिया।

रूस पहले ही दे चुका है चेतावनी

इस क्षेत्र में अमेरिकी सैनिकों की तैनाती को लेकर रूस पहले से ही आक्रामक रहा है। ऐसे में अमेरिका के साथ उसके संबंधों में फिर तनाव देखने को मिल सकता है। रूस का ज्यादातर व्यापार सेंट पीटर्सबर्ग पोर्ट से बाल्टिक सी के रास्ते से ही होता है। ऐसे में रूस इसे अपने घेराव के रूप में देख रहा है।

अमेरिकी सैनिकों के लिए पैसा चुकाएगा पौलैंड

इस समझौते में पौलैंड की सरकार अमेरिकी फौज की तैनाती के बदले यूएस को अनुदान देगी। वर्तमान में पोलैंड में 4,500 अमेरिकी सैनिक मौजूद हैं। अमेरिका की योजना जर्मनी से अपने सैनिकों को निकालकर यहां तैनात करने की है। बताया जा रहा है कि अमेरिकी 1000 और सैनिकों को वॉरसा में तैनात कर सकता है।

बाल्टिक सागर में रूसी किलर परमाणु पनडुब्बी, अमेरिका-यूरोप की बढ़ी टेंशन

जर्मनी से पोलैंड भेजे जाएंगे अमेरिकी सैनिक

पिछले महीने ही ट्रंप ने ऐलान किया था कि जर्मनी से लगभग 12,000 सैनिकों को जर्मनी से निकाला जाएगा। इनमें से कुछ अमेरिका वापस लौट जाएंगे जबकि 5,600 सैनिकों को पौलैंड सहित कई देशों में भेज दिया जाएगा। इसके अलावा, कई अमेरिकी सैन्य कमांडों को जर्मनी से बाहर ले जाया जाएगा। इसमें यूएस आर्मी वी कॉर्प्स का विदेशी मुख्यालय भी शामिल है जो अगले साल पोलैंड में स्थानांतरित हो जाएगा।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

Web Title : us troop move from germany to poland warsaw, tension will deepen with russia

Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

Related Articles

Close