International

युद्धाभ्यास कर रहा था चीन, अमेरिकी जासूसी विमान U-2 देखकर बौखलाया

| एजेंसियां | Updated: 26 Aug 2020, 07: 21: 00 PM

US Spy Plane in China: अमेरिका का एक जासूसी विमान U-2 ऐसे वक्त में चीन में देखा गया जब चीन 4 जगहों पर एक विशाल युद्धाभ्यास कर रहा था। इस पर चीन बेहद नाराज हुआ है और इसका विरोध किया है।

चीन सीमा पर आक्रामक हुआ भारत, जवानों को थमाया घातक हथियार

हाइलाइट्स:

  • यलो सी, बोहाई खाड़ी, ईस्ट और साउथ चाइना सी में युद्धाभ्यास कर रहा था चीन
  • नो-फ्लाई जोन में दिखा अमेरिकी वायुसेना का U-2 जासूसी विमान, गुस्साया चीन
  • चीन ने बताया गंभीर हस्तक्षेप, कहा- उकसावे की कार्रवाई ऐसी हरकतें रोके US

पेइचिंग

देश के उत्तरी हिस्से में सैन्य अभ्यास के दौरान लगाए गए ‚नो-फ्लाई जोन‘ में अमेरिकी वायुसेना के U-2 जासूसी विमान की कथित घुसपैठ का चीन ने विरोध किया है। राष्ट्रीय रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इस कार्रवाई से ‚सामान्य अभ्यास में गंभीर हस्तक्षेप किया गया।‘ मंत्रालय ने प्रवक्ता वू कीन ने कहा, ‚यह पूरी तरह से उकसावे की कार्रवाई है।‘ वू ने कहा कि इसका कड़ा विरोध किया है और अमेरिका से ऐसी हरकतें रोकने की मांग की है।

30 सितंबर तक चलेगा चीन का युद्धाभ्यास

बयान में कहा कि चीन का ‚उत्तरी थिअटर कमान‘ सैन्य अभ्यास कर रहा था। उसके समय और स्थान संबंधी विस्तृत जानकारी नहीं दी गई। हालांकि समुद्री सुरक्षा प्रशासन ने बताया कि यह अभ्यास बीजिंग के पूर्व में बोहाई खाड़ी पर सोमवार को शुरू हुआ और 30 सितंबर तक चलेगा। यलो सी, बोहाई खाड़ी, ईस्ट और साउथ चाइना सी में युद्धाभ्यास कर रहा है।

भारत-अमेरिका के खिलाफ कंबोडिया में ‚किलेबंदी‘ कर रहा चीन? सैन्य बेस बनाने के संकेत

अमेरिका भी हवाई द्वीप पर दिखा रहा ताकत

अमेरिका ने भी अपने हवाई द्वीप समूह के पास 17 अगस्त से दुनिया का सबसे बड़ा नौसैनिक अभ्यास रिमपैक (Rim of the Pacific Exercise) आयोजित कर रखा है। इसमें शामिल 10 देशों की सेनाएं अपने घातक हथियारों और विशाल युद्धपोतों का शक्तिप्रदर्शन कर रही हैं। वहीं, इस साल के युद्धाभ्यास के डायरेक्टर कैप्टन जे स्टीनगोल्ड का कहना है कि इस दौरान रूस या चीन का कोई जहाज इस क्षेत्र में दिखाई नहीं दिया।



चीन-अमेरिका तनाव अपने चरम पर

व्यापार, प्रौद्योगिकी, ताइवान और दक्षिण चीन सागर सहित कई मुद्दों पर चीन और अमेरिका के बीच विवाद जारी है। दोनों के रिश्ते कई दशकों में सबसे खराब स्तर पर हैं। वहीं, चीन-ताइवान जैसे विवाद पर दोनों देश लगभग आमने-सामने आ चुके हैं। अमेरिका ने ताइवान के साथ F-16V फाइटेर जेट्स की डील की है जिसके बाद चीन की ओर से भी तल्ख प्रतिक्रिया दी गई।

राफेल से टक्‍कर, चीन ने लद्दाख के पास तैनात किए जे-20 फाइटर जेट


USAF

USAF

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

Web Title : china furious after american spy plane u2 spotted during war exercise in south china sea and yellow sea

Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

Related Articles

Close